Help Hindi Me

बोहेमिया की जीवनी

Last updated on: March 24th, 2021

https://helphindime.in/who-is-bohemia-biography-jivani-jivan-parichay-life-history-information-in-hindi/
बोहेमिया की जीवनी | Who is Bohemia | Biography | Jivani | Jivan Parichay | Life History | Information in Hindi

बोहेमिया की जीवनी | Bohemia Biography in Hindi

म्यूजिक इंडस्ट्री में पंजाबी म्यूजिक और रैप काफी प्रचलित है। भारत में जहां रैप के लिए यो यो हनी सिंह, बादशाह जैसे ढेरों रैपर्स की बाढ़ सी आ गई है। वहीं इन नामों में एक और नाम का जिक्र करना इसमें बेहद जरूरी हो जाता है, यह नाम है बोहेमिया।

बोहेमिया भले एक पाकिस्तानी-अमेरिकी सिंगर है लेकिन भारत में उनकी प्रसिद्धि किसी से छुपी नहीं है। बोहेमिया के रैप की सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह उनकी जिंदगी के उतार-चढ़ाव की कहानी बयां करते हैं। उनके रैप में शायरी,कविताएं शामिल होती हैं जो उन्हें अन्य रैपर्स से अलग करती है। लेकिन बोहेमिया ने इतना नाम कमाने के लिए अपने जीवन में काफी संघर्ष किया है।

आइए जानते हैं बोहेमिया के संघर्ष भरे जीवन के बारे में-

नामरोजर डेविड
अन्य नामबोहेमिया, राजा
पेशारैपर, गायक, संगीतकार
जन्म तिथि15 अक्टूबर 1979
आयु(2021)41 वर्ष
जन्मस्थानकराची, पाकिस्तान
राष्ट्रीयताअमेरिका
वैवाहिक स्थितिशादीशुदा
पत्नी का नामसन्नी डेविड
धर्मईसाई
शौकगाने और कविताओं की रचना
ऊंचाई175 सेमी, 5’9”
वजह70 किलो
बोहेमिया की जीवनी | Who is Bohemia | Biography | Jivani | Jivan Parichay | Life History | Information in Hindi



करण जौहर की जीवनी

बोहेमिया का प्रारंभिक जीवन (Bohemia’s Early Life)

रोजर डेविड (Bohemia’s Real Name) जिन्हें उनके स्टेज नाम बोहेमिया के नाम से जाना जाता है, का जन्म 15 अक्टूबर 1979 को पाकिस्तान के कराची में हुआ। उनका जन्म पंजाबी ईसाई परिवार में हुआ। यही वजह है कि उनके घर में एक बाइबल तथा एक गुरु ग्रंथ साहिब रखा हुआ है क्योंकि बोहेमिया के पूर्वज सिख थे। बोहेमिया के पिता इंटरनेशनल एयरलाइन के कर्मचारी थे।

हालांकि बोहेमिया के पिता और माता के बारे में ज्यादा जानकारियां प्राप्त नहीं है। बोहेमिया ने अपना बचपन लाहौर में बिताया आगे जाकर वह पेशावर चले गए जहां वे 7 साल रहे। जब वह 12-13 साल की उम्र के थे तभी उनका परिवार अमेरिका के कैलिफोर्निया में बस गया। बोहेमिया ने अपने पिता से संगीत सीखा और उसी दौरान उन्होंने कविता लिखनी भी शुरू की।

वे स्थानीय स्तर पर होने वाले देसी कार्यक्रमों में कीबोर्ड बजाने का भी काम करते थे। उन्होंने अपने जीवन काल में ज्यादातर उर्दू तथा पंजाबी गाने और कविताओं का लेखन किया। जब बोहेमिया 16 साल के थे तभी उनकी माता का कैंसर से निधन हो गया था। इस घटना से आहत हुए बोहेमिया बुरी तरह से टूट गए थे।



मिलिंद सोमन की जीवनी

बोहेमिया का करियर (Bohemia’s Rapper History)

बोहेमिया को आगे जाकर पहली बार सैक्रामेंटो के एक रिकॉर्डिंग स्टूडियो में नौकरी हासिल हुई जिसके बाद उन्होंने अपना स्कूल छोड़कर संगीतकार बनने की ठान ली और अपने परिवार से दूर चले गए। लेकिन बोहेमिया को इसके लिए काफी संघर्ष करना पड़ा।

दरअसल, उन्हें कई रातें सड़कों पर बितानी पड़ी। वह यूएस और कनाडा में कारों में अपनी रात काटते तथा स्टूडियो के फर्श पर रिकॉर्डिंग करते हुए जिग्स बजाया करते थे। इस दौरान बोहेमिया को पैसों के लिए छोटे-मोटे काम भी करने पड़े। साल 2000 में वे अपने चचेरे भाई के साथ शामिल होने के लिए वेस्ट ऑकलैंड चले गए। जहां उनका भाई रिकॉर्डिंग स्टूडियो में काम करता था जिसे Sha One (शा वन) कहा जाता था।

उनके भाई ने बोहेमिया की संगीत में गहरी रूचि देखते हुए उन्हें 1 बीट पर रैप लिखने के लिए कहा। दोनों ने अपनी संगीत में रुचि देखते हुए रिकॉर्ड लेबल को फ्रेम करने की व्यवस्था की और इसे ‘द आउटफिट एंटरटेनमेंट’ का नाम दिया। लेकिन साल 2002 में बोहेमिया के एक दोस्त की गोली मारकर किसी ने हत्या कर दी जिस बात से डरे बोहेमिया छिपकर रहने लगे तथा इसी दौरान उन्होंने रैपिंग करना तथा लिखना शुरु कर दिया।

कुछ समय बाद बोहेमिया ने अपना डेब्यू एल्बम ‘विच परदेसन दे’(in the foreign land) रिलीज़ किया यह एल्बम उनके जीवन की कहानी बयां करता है। इसमें उन्होंने एक देसी युवा के अमेरिका में रहने तथा उनके जीवन की कहानी को चित्रित किया है। उनके इस एल्बम ने काफी प्रसिद्धि हासिल की तथा साल 2002 में यह बीबीसी यूके के शीर्ष 10 गानों में पहुंच गई।

आगे जाकर बोहेमिया ने बॉलीवुड फिल्म चांदनी चौक टू चाइना जिसमें अक्षय कुमार और दीपिका पादुकोण ने अभिनय किया था, इस फिल्म का टाइटल ट्रैक भी किया। बोहेमिया ने ऐसे ही अपने जीवन काल में कई रैप सोंग गाए तथा कामयाबी के शिखर पर पहुंचे। साल 2012 में सोनी म्यूजिक ने बोहेमिया को साइन किया तथा एसोसिएशन के भाग के रूप में सोनी म्यूजिक द्वारा उनके एल्बम, लॉन्च और शो के प्रबंधन को नियंत्रित किया गया। इसी साल उन्होंने अपना चौथा एल्बम लॉन्च किया जिसका नाम था ‘थाउजेंड थॉट्स’(Thousand Thoughts)। 2017 में उन्होंने अपना अन्य एल्बम ‘स्कुल एंड बोंस: द फाइनल चैप्टर’ (Skulls and bones: the final Chapter) रिलीज किया। साल 2018 के अंत में उन्होंने भारत का दौरा किया जहां उन्होंने चंडीगढ़, दिल्ली, मुंबई और राजस्थान में अपना प्रदर्शन दिया।

साल 2015 में बोहेमिया, सनी डेविड के साथ शादी के बंधन में बंधे।



लिली सिंह की जीवनी

बोहेमिया की पसंदीदा चीजें (Bohemia’s Favorite)

बोहेमिया की पसंदीदा अभिनेत्री नासिर जॉन्स (Nasir Jones) है। इसके अलावा उनके पसंदीदा कवि में फैज अहमद फैज, मिर्जा गालिब, अल्लामा इकबाल का नाम आता है। वे गायक में नुसरत फतेह अली खान, मोहम्मद रफी, मुकेश, नूरजहां, सोनू निगम, हरिहरन, केएस चित्रा को पसंद करते हैं। उनका पसंदीदा रंग काला है।

बोहेमिया को लेकर विवाद (Controversy over Bohemia)

बोहेमिया को लेकर सबसे बड़ा विवाद यह है कि उन्होंने यो यो हनी सिंह के रैप को लेकर मजाक बनाया था तथा उन्होंने यह भी कहा था कि यो यो हनी सिंह के रैप सुनकर दुनिया हंसती है। जिसके बाद से उनकी काफी आलोचना हुई थी।

बोहेमिया के पुरस्कार और नामांकन (Awards & Nominations)



काजल अग्रवाल की जीवनी

बोहेमिया के बारे में दिलचस्प तथ्य (Interesting facts about Bohemia in Hindi)

मौजूदा समय में म्यूजिक और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में कई रैपर्स आए और गए लेकिन आज तक बोहेमिया का स्थान कोई नहीं ले पाया है। इसके पीछे की वजह है बोहेमिया के रैप की शैली जो कि बड़े-बड़े शायरों से प्रेरित होकर की जाती है। आशा है आप को इस आर्टिकल में बोहेमिया के जीवन के बारे में काफी कुछ जानने को मिला होगा।



टाइगर श्रॉफ की जीवनी

Author:

भारती, मैं पत्रकारिता की छात्रा हूँ, मुझे लिखना पसंद है क्योंकि शब्दों के ज़रिए मैं खुदको बयां कर सकती हूं।

Exit mobile version