Help Hindi Me

रजनीकांत की जीवनी

https://helphindime.in/who-is-rajinikanth-biography-jivani-jivan-parichay-full-name-wife-life-history-information-in-hindi/
रजनीकांत की जीवनी | Who is Rajinikanth | Biography | Jivani | Jivan Parichay | Full Name | Wife | Life History | Information in Hindi

रजनीकांत की जीवनी | Biography of Rajinikanth in Hindi

नामशिवाजी राव गायकवाड़
अन्य नामथलाइवा, रजनीकांत
पिता का नामरामोजी राव गायकवाड़
माता का नामजीजाबाई
भाई का नामसत्यनारायण राव गायकवाड़, नागेश्वर राव गायकवाड़
बहन का नामअसवथ बालुभाई
पेशापटकथा लेखक, निर्माता, अभिनेता, समाज सेवक
जन्म तिथि12 दिसंबर 1950
आयु (2021)70 वर्ष
जन्म स्थानबेंगलुरु, भारत
राष्ट्रीयताभारतीय
वैवाहिक स्थितिविवाहित
पत्नी का नामलता रजनीकांत (Latha Rajinikanth)
धर्महिंदू
बच्चेऐश्वर्या, सौंदर्या
ऊंचाई5’8’’
वजन73 किलोग्राम
नेट वर्थ$50 Million
रजनीकांत की जीवनी | Who is Rajinikanth | Biography | Jivani | Jivan Parichay | Full Name | Wife | Life History | Information in Hindi

रजनीकांत की जीवनी (Rajinikanth’s Biography in Hindi)

शिवाजी राव गायकवाड़ जिन्हें फिल्म इंडस्ट्री में रजनीकांत के नाम से जाना जाता है, एक काफी मशहूर और प्रतिभाशाली अभिनेता हैं। लेकिन वे सिर्फ एक अभिनेता ही नहीं बल्कि एक पटकथा लेखक, फिल्म निर्माता तथा पार्श्व गायक भी हैं। उन्होंने अब तक 160 से ज्यादा फिल्मों में काम किया जो कई भाषाओं से संबंधित थी। इनमें तमिल, कन्नड़, मलयालम, तेलुगू, हिंदी, अंग्रेजी तथा बंगाली आदि सम्मिलित है। आइए जानते हैं रजनीकांत के जीवन के बारे में।



मनोज बाजपेयी की जीवनी

रजनीकांत का प्रारंभिक जीवन (Early Life of Rajinikanth)

शिवाजीराव गायकवाड़ जिन्हें रजनीकांत के रूप में जाना जाता है उनका जन्म 12 दिसंबर 1950 को हुआ। रजनीकांत का नाम छत्रपति शिवाजी के नाम पर रखा गया था। लोगों को लगता है कि वह तमिल परिवार से संबंधित है हालांकि वे एक मराठी परिवार में जन्मे। रजनीकांत अपने घर में तो मराठी में बात करते थे लेकिन बाहर जाकर वे कन्नड़ में बात किया करते थे।

उनकी माता का नाम जीजाबाई तथा पिता का नाम रामोजी राव गायकवाड़ था उनके पिता पुलिस कॉन्स्टेबल थे। इसके अलावा रजनीकांत की एक बहन तथा दो भाई हैं। इन सबमें वे सबसे छोटे हैं। जब रजनीकांत के पिता सेवानिवृत्त हुए तब उनका पूरा परिवार बेंगलुरु के हनुमंत नगर में बस गया। जब रजनीकांत सिर्फ 9 साल के थे तभी उनकी माता की मृत्यु हो गई। अपनी शिक्षा हासिल करने के बाद रजनीकांत बैंगलोर और मद्रास में नौकरी ढूंढने गए। इस दौरान उन्होंने एक कुली, एक बढ़ई तथा बेंगलुरु ट्रांसपोर्ट सर्विसेज में बस कंडक्टर के रूप में काम किया।



पंकज त्रिपाठी की जीवनी

रजनीकांत की शिक्षा (Rajinikanth’s Education)

रजनीकांत ने गवर्नमेंट मॉडल प्राइमरी स्कूल जो कि बेंगलुरु में स्थित है, से अपने प्रारंभिक शिक्षा पूरी की। बचपन से ही रजनीकांत क्रिकेट, फुटबॉल तथा बास्केटबॉल खेलते थे। लेकिन उसी दौरान रजनीकांत के भाई ने उन्हें रामकृष्ण मठ में भिजवाया जहां उन्होंने वेद, भारतीय इतिहास तथा आध्यात्मिकता का अभ्यास किया।

मठ में ही उन्होंने अपने दोस्त एकलव्य के साथ एक नाटक किया जिसमें रजनीकांत के एक्टिंग की काफी तारीफें की गई। आगे जाकर उन्होंने अपने अभिनय का कोर्स एमजीआर फिल्म एंड टेलिविजन इंस्टीट्यूट ऑफ तमिलनाडु(M.G.R. Government Film and Television Training Institute) से किया।



अनन्या पांडे की जीवनी

रजनीकांत का करियर (Rajinikanth’s Film Career)

रजनीकांत ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत 1975 में की। उन्होंने एक तमिल ड्रामा फिल्म अपूर्वा रागंगल से डेब्यू किया। साल 2007 में आई उनकी फ़िल्म शिवाजी के लिए उन्हें करीब 26 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया। उस समय में सबसे ज्यादा भुगतान लेने वाले अभिनेताओं में जैकी चैन का नाम आता था। पूरे एशिया में जैकी चैन के बाद रजनीकांत ही दूसरे सबसे महंगे अभिनेता बने। लेकिन रजनीकांत भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में ही नहीं बल्कि हॉलीवुड में भी अपना नाम कमा चुके हैं। उन्होंने साल 1988 में हॉलीवुड के फिल्म ब्लडस्टोन से काम शुरू किया हालांकि यह फिल्म विफल रही।



नेहा कक्कड़ की जीवनी

रजनीकांत की पत्नी, परिवार, बच्चे (Rajinikanth’s Marriage, Wife & Children)

रजनीकांत की शादी लता(Latha) से हुई है जो कि एक स्कूल चलाती है जिसका नाम आश्रम है। 26 फरवरी 1981 में उनकी शादी हुई उन्होंने अपनी शादी आंध्र प्रदेश के तिरुपति में की। उनके विवाह के बाद उनकी दो बेटियों ऐश्वर्या रजनीकांत और सौंदर्या रजनीकांत का जन्म हुआ।

उनकी बेटी ऐश्वर्या की शादी 18 नवंबर 2004 को अभिनेता धनुष के साथ हुई। इसके अलावा उनकी छोटी बेटी सौंदर्या डायरेक्टर, प्रोड्यूसर और ग्राफिक डिज़ाइनर के रूप में तमिल फिल्म इंडस्ट्री में कार्यरत हैं। उनकी शादी भी 3 सितंबर 2010 को उद्योगपति अश्विन रामकुमार से की गई।

जापान में रजनीकांत की लोकप्रियता (Rajinikanth’s popularity in Japan)

सुपरस्टार रजनीकांत सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी काफी लोकप्रिय है। यही वजह है कि जापान में उनकी बहुत बड़ी फैन फॉलोइंग है। दरअसल, 1997 में जापानी सिनेमाघरों में भारतीय फिल्मों का प्रवेश हुआ। इसके अगले ही साल 1998 में रजनीकांत की फिल्म ‘मूत्तु’ को जापान में रिलीज किया गया। यह फिल्म जापानी बॉक्स ऑफिस में पहली भारतीय हिट फिल्म साबित हुई। जो 100 दिनों से अधिक समय तक जापानी सिनेमाघरों में चली। इस फिल्म में 1.7 मिलियन अमेरिकी डॉलर से अधिक की कमाई की।

‘मूत्तु’ के बाद से ही जापान को रजनीकांत के रूप में एक नया सुपरस्टार मिल गया। लगातार उनकी फिल्में जापान में प्रसिद्ध होती गई। जापान में उनकी लोकप्रियता का आलम यह है कि उन्हें वहां ‘ओदोरी महाराज (Odori Maharaja)’ और ‘डांसिंग महाराज (Dancing Maharaja)’ के नाम से भी जाना जाता है। जापान में बड़ी संख्या में रजनीकांत के फैन क्लब्स है जो टोक्यो, ओसाका और कोबे में लगातार मीटिंग और गेट टूगेदर का आयोजन करते है।



अनुष्का शर्मा की जीवनी

रजनीकांत को लेकर विवाद (Controversy over Rajinikanth)



शाहरुख खान की जीवनी

रजनीकांत के पुरस्कार और उपलब्धियां (Awards & Achievements)



फराह खान की जीवनी

रजनीकांत से जुड़े कुछ रोचक तथ्य (Some interesting facts related to Rajinikanth in Hindi)

रजनीकांत मंदिर, कर्नाटक (Rajinikanth Temple, Karnataka)

रजनीकांत ने एक बस कंडक्टर से ले कर सुपरस्टार तक का सफर तय किया, उन्होंने समाज के लिए भी कई कार्य किये इन्ही से प्रभावित हो कर उनके प्रशंसकों ने अपने स्टार की समृद्धि हेतु कर्नाटक के कोलार के कोटिलिंगेश्वर मंदिर में “सहस्र लिंगम” की स्थापना की, यह मंदिर 15 एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ है, इस मदिर को देखने में 5-6 घंटे का समय लगता है।

रजनीकांत की बढ़ती उम्र ने उनकी प्रसिद्धि को कम नहीं किया। अभी भी वे सभी के दिलों में वही रजनीकांत है जिन्होंने अपने अनोखे अंदाज और स्टाइल से फ़िल्म इंडस्ट्री में नाम कमाया।



काजल अग्रवाल की जीवनी

तो ऊपर दिए गए लेख में आपने पढ़ा रजनीकांत की जीवनी | Who is Rajinikanth | Biography | Jivani | Jivan Parichay | Full Name | Wife | Life History | Information in Hindi, उम्मीद है आपको हमारा लेख पसंद आया होगा।

आपको हमारा लेख कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताएं, अपने सुझाव या प्रश्न भी कमेंट सेक्शन में जा कर पूछ सकते हैं। ऐसे ही लेख पढ़ने के लिए HelpHindiMe को Subscribe करना न भूले।

Author:

भारती, मैं पत्रकारिता की छात्रा हूँ, मुझे लिखना पसंद है क्योंकि शब्दों के ज़रिए मैं खुदको बयां कर सकती हूं।

Exit mobile version