Site icon Help Hindi Me

HINDI KAVITA: लौटकर नहीं आओगी

Last updated on: September 12th, 2020

लौटकर नहीं आओगी

मुझे यकीन है कि अब
कहीं भी बस जाओगी

पर लौट कर नहीं आओगी
लोग कहते हैं जाने वाले

लौट कर नहीं आते
अगर आ भी गई तो बहुत पछताओगी

पर लौटकर नहीं आओगी
बहुत सी अनकही बातों को

दिल से लगाओगी
अब जो गई हो तो

लौटकर नहीं आओगी
यूँ तो यकीन दिलाने को

कुछ भी नहीं है बाकी मुझमें
फिर भी दूर से देखकर मुझे तरसोगी

जानता हूंँ मैं
अब लौटकर नहीं आओगी।।

Read More:
All HINDI KAVITA

अगर आप की कोई कृति है जो हमसे साझा करना चाहते हो तो कृपया नीचे कमेंट सेक्शन पर जा कर बताये अथवा contact@helphindime.in पर मेल करें.

Note: There is a rating embedded within this post, please visit this post to rate it.

About Author:

मेरा नाम निर्भय सोनी है और मैं उत्तर प्रदेश के रहने वाला हूँ। मुझे लिखने में अच्छी रूचि है। मुझे विश्वास है कि आप लोगों को मेरा ये लेख जरुर पसन्द आएगा। आप लोग अपना आशिर्वाद और प्यार इसी तरह बनाए रखिये।

Exit mobile version