Help Hindi Me

सुखी जीवन जीने के तरीके

https://helphindime.in/sukhi-jivan-jine-ke-tarike-learn-ways-to-live-a-happy-life-in-hindi/
जानिए सुखी जीवन जीने के 10 तरीके | Learn 10 ways to live a Happy Life in Hindi

जानिए सुखी जीवन जीने के 10 तरीके | Learn 10 ways to live a Happy Life in Hindi

हर इंसान की चाह होती है कि वह सुखी जीवन व्यतीत करें। पहले लोगों के पास इतनी सुख सुविधाएं नहीं थी जितनी आज है, लेकिन फिर भी कई लोग ऐसे हैं जो दुखी है। लोग लगातार उच्च रक्तचाप, तनाव जैसी कई तरह की बीमारियों से आज ग्रसित है। मौजूदा समय में लगातार लोग आत्महत्या कर रहे हैं। और आत्महत्या करने वाले लोगों में छोटे-छोटे बच्चे तक शामिल है।

ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर इन सब के पीछे क्या कारण है। दरअसल, इसके पीछे की वजह यह है कि भागदौड़-भरी जिंदगी में लोग अब खुश रहना भूल गए हैं। कई लोग ऐसे होते हैं जिनके पास सब कुछ होते हुए भी उससे खुश ना होकर जो चीज उनके पास नहीं है उसे लेकर दुखी रहते हैं और अपने जीवन को बर्बाद कर देते हैं।

आजकल लोगों की जीवन शैली काफी तनाव भरी हो चुकी है जिस वजह से उनके स्वभाव में भी चिड़चिड़ापन आ गया है। वे अपने जीवन में खुशी को कहीं दूर छोड़ चुके हैं। ऐसे में यदि आप ही अपने जीवन को खुशनुमा बनाना चाहते हैं तो हम आपको ऐसे 10 तरीके बताएंगे जिन्हें अपनाकर आप सुखी जीवन जी सकते है।



जाने अपने जीवन का लक्ष्य

आइए जानते हैं सुखी जीवन जीने के 10 तरीके


1. वर्तमान में जीना सीखें

कई लोग ऐसे होते हैं जो अपने बीते दिनों को लेकर दुखी और परेशान रहते हैं तथा ऐसे भी कई लोग होते हैं, जिन्हें अपने भविष्य की चिंता सता रही होती है। लेकिन जब लोग अपने भूतकाल तथा भविष्य के बारे में ज्यादा सोचने लगते हैं तब वे अपने वर्तमान को खराब कर देते हैं इसलिए जरूरी है कि आप भूतकाल में जो हो चुका है उसे सोचकर दुख ना करे और ना ही भविष्य में क्या होने वाला है उसकी चिंता करें। बल्कि अपने आप को बेहतर बनाने का प्रयास करें। यदि आप अपने आज को बेहतर बनाने लगते हैं तब आपका भविष्य अपने आप ही अच्छा बन जाता है जिससे आप एक खुशनुमा जीवन जीने लगते हैं।

2. परिजनों और मित्रों के साथ समय व्यतीत करें

बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो कोई भी परेशानी होने पर उसे दूसरों से शेयर नहीं करते। बल्कि खुद अपने अंदर रखकर घुट-घुट कर जीने लगते हैं, जिस वजह से उनका जीवन तनावपूर्ण हो जाता है। ऐसे में आपको अपने परिजनों के साथ समय बिताना जरूरी होता है क्योंकि आपके परिवार वाले ही ऐसे लोग हैं जो निस्वार्थ आपकी बातों को समझेंगे। वही आपको अपने मित्रों के साथ भी समय व्यतीत करना चाहिए क्योंकि मित्रों के साथ रहकर आप अपने दुख और गम सब भूल जाते हैं।

3. हमेशा अच्छे काम करें

एक कहावत है कि ‘बड़ा आदमी बनना अच्छी बात है, लेकिन अच्छा आदमी बनना बड़ी बात है।‘ मौजूदा समय में लोग सिर्फ पैसा, धन, दौलत-शोहरत के पीछे ही भागते रहते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि इसी में खुशियां छिपी हुई है। हालांकि ऐसा नहीं है। कहा जाता है कि पैसा सब कुछ खरीद सकता है लेकिन जीवन के समस्त सुख और मन की शान्ति पैसे से नहीं खरीदी जा सकती। इसीलिए हमेशा इंसान को अच्छे काम करते रहना चाहिए। उन्हें निस्वार्थ होकर हर उस व्यक्ति की मदद करनी चाहिए जो कमजोर है या किसी चीज को कर पाने में सक्षम नहीं है। ऐसे लोगों की मदद से आपके मन में एक संतुष्टि की भावना आती है।

4. आशावादी बनना सीखें

एक सुखी जीवन जीने के लिए जरूरी है कि आप अपना रवैया आशावादी रखें, क्योंकि यदि आप आशावादी बनते हैं तो इससे आपका जीवन आसान और सुंदर हो जाता है एवं जो लोग आशावादी नहीं होते वे किसी भी छोटी-मोटी परेशानियों को लेकर चिंता करते रहते हैं और नकारात्मक सोच को अपने दिमाग में डाल लेते हैं। वही जब आप आशावादी होते हैं तब आप हमेशा सकारात्मक सोचते हैं कि यह काम पूरा हो ही जाएगा। कल की चिंता ना करने से आपका आज बेहतर होता है इसलिए हमेशा आशावादी रवैया बनाकर रखें।

5. हमेशा अपनी पसंद का काम करें

प्रत्येक इंसान को हमेशा वही काम करना चाहिए जिससे उन्हें खुशी मिलती हो। ऐसा काम कभी भी नहीं करना चाहिए जो उन्हें नापसंद हो। यदि इंसान अपने अंतरात्मा की सुनता है तो उस काम को लेकर खुश रहने लगता है। लेकिन यदि आप अपनी पसंद के खिलाफ कोई काम करते हैं तो यह आपके अंदर तनाव पैदा करता है, इसीलिए हमेशा उन्हीं कामों को करें जिसे करने के लिए आपका दिल कहता हो।



आत्मविश्वास कैसे बढ़ाएं

6. दूसरों को माफ करना सीखें

कल क्या होने वाला है यह किसी को नहीं पता। इसीलिए हमेशा आज को देखना चाहिए। यदि दूसरे से कोई गलती भी हो जाए तो उसे माफ कर देना चाहिए। इंसान को छोटी-छोटी बातों पर नाराज नहीं होना चाहिए। जब हम दूसरों को माफी देते हैं तो अपने आप ही हमारा खुद का दिल भी हल्का होने लग जाता है और हर किसी को जीवन में एक मौका तो जरूर देना ही चाहिए।

7. मुस्कुराना सीखें

हर किसी को अपने जीवन की शुरुआत मुस्कुराकर करनी चाहिए। अपने जीवन में हुई बुरी बातों को भुलाकर इंसान को हमेशा मुस्कुराते हुए आगे बढ़ जाना चाहिए। यदि आप खुशहाल जीवन जीना चाहते हैं तो इसके लिए अपने दोस्तों के साथ घुले-मिले तथा उनके साथ मस्ती करें और मुस्कुराना सीखें, क्योंकि मुस्कुराने से ही आप अपने दुख गम सभी को भुला देते हैं। इसके साथ ही आप अन्य लोगों का भी दिन अच्छा बनाते है।

8. बुराई में भी अच्छाई ढूंढने का प्रयास करें

जैसे हर सिक्के के 2 पहलू होते हैं। वैसे ही जीवन में भी अच्छाई और बुराई हमेशा साथ ही रहते हैं। यह जरूरी नहीं कि हर दिन हर पल हमारे साथ कुछ अच्छा ही होगा। धरती पर ऐसा कोई व्यक्ति नहीं होगा जिसके जीवन में कभी दुख की घड़ी ना आई हो। लेकिन हमेशा व्यक्ति को बुराई में भी अच्छाई ढूंढने का प्रयास करते रहना चाहिए, तभी वह खुश रह सकता है।

9. बाहर घूमे फिरे

हमेशा एक ही जगह कैद रहने से मनुष्य के अंदर चिड़चिड़ापन अपने आप ही आ जाता है। यदि आप बाहर घूमने जाते हैं तो आपका मन संतुलित रहता है तथा आप अपनी परेशानियों से थोड़ा बच भी जाते हैं। बाहर घूमने से व्यक्ति जहां तनावमुक्त होता है वही जीवन के नए-नए अनुभवों से भी रूबरू होता है।

10. अपनी ईर्ष्या पर काबू रखना सीखें

कभी भी इंसान को किसी अन्य इंसान को देखकर जलन और ईर्ष्या महसूस नहीं करना चाहिए। आपके पास जितना है आपको उसे लेकर ही संतुष्ट और आभारी रहना चाहिए। जब आप अपनी तुलना दूसरों से करना बंद कर देंगे तभी आप सुखी जीवन जी सकेंगे।



स्मरण शक्ति सुधारने की टिप्स

उम्मीद है सुखी जीवन जीने के इन तरीकों को ध्यान में रखकर आप अपने आगे का जीवन खुशी से व्यतीत करेंगे।

तो ऊपर दिए गए लेख में आपने जाना कि सुखी जीवन जीने के 10 तरीके | Learn 10 ways to live a Happy Life in Hindi, उम्मीद है आपको हमारा लेख पसंद आया होगा।

आपको हमारा लेख कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताएं, अपने सुझाव या प्रश्न भी कमेंट सेक्शन में जा कर पूछ सकते हैं। ऐसे ही लेख पढ़ने के लिए HelpHindiMe को subscribe करना न भूले।

Author:

भारती, मैं पत्रकारिता की छात्रा हूँ, मुझे लिखना पसंद है क्योंकि शब्दों के ज़रिए मैं खुदको बयां कर सकती हूं।

Exit mobile version