MayaNagri: Inspiring Struggle Stories of Bollywood Actors

मुंबई को भारत की मायानगरी बोला जाता है और बॉलीवुड को मायानगरी का ह्रदय कहा जाता है। सिनेमा, सीरियल और वेब सीरीज यह सब आज हमारे दैनिक जीवन का हिस्सा बन गयी हैं. देश के इस मायानगरी में पहुंच कर अपनी किस्मत आजमाने का ख्वाब लिए न जाने कितने युवा हर रोज माया नगरी का रुख करते है, कई तो सफल हो जाते है कइयों का स्ट्रगल लम्बा चलता है।

बॉलीवुड के बाहर से आ कर अपना नाम बनाना युवाओ के लिए कभी भी आसान नहीं रहा है , आज हम बात करने जा रहे है कुछ बॉलीवुड एक्टर्स की जिन्होंने मेहनत के बल बूते पर बाहर से आ कर बॉलीवुड में अपनी अलग पहचान बनायीं है।

अमिताभ बच्चन(Amitabh Bachchan)
Amitabh Bachchan का जन्म एक साधारण परिवार में सन 11 October 1942 को हुआ।
लम्बी कद काठी और दमदार आवाज़ के धनी अभिताभ बच्चन को अमित जी, बिग बी, एंग्री यंग मन ऑफ़ बॉलीवुड, बॉलवुड के शहंशाह, स्टार ऑफ़ द मिलेनियम के नाम से भी जाना जाता है।

अमिताभ बच्चन का बॉलवुड का सफर भी आसान नहीं रहा, बिग बी ने अपने करियर की शुरुवात में अपनी कई रातें मरीन ड्राइव की बेंच पर बिताई परन्तु अपने पथ से कभी भी विमुख नहीं हुए।

वैसे तो आज की तारीख में बिग बी को लोग उनके दमदार अभिनय के अलावा उनकी गजब की आवाज से भी पहचानते है लेकिन कभी उनकी इसी आवाज़ को दो बार रेडियो स्टेशनों द्वारा अस्वीकार कर दिया गया था।

बिग बी की सफल फिल्मो लिस्ट देखेंगे तो एक बहुत लम्बी हिट फिल्मो की सूची आपको देखने को मिल जाएगी लेकिन 1970 के दशक में जंजीर, शोले, दीवार और चुपके-चुपके जैसी फिल्मों के लिए लोकप्रियता हासिल हुई।

हालांकि जंजीर से पहले उनकी एक के बाद एक कुल बारह फ़िल्में फ्लॉप हुईं। बिग बी 1970 से 1980 के दशक के हिंदी सिनेमा के सबसे प्रमुख कलाकार बन गए ।

बिग बी के अभिनय के कायल हो कर एक फ्रांसीसी निर्देशक फ्रांस्वा ट्रोफोट ( François Truffaut)  ने उन्हें “वन-मैन इंडस्ट्री” ख़िताब से नवाज़ा था।

फ्रांस की सरकार ने 2007 में बिग बी को फ्रांस का सर्वोच्च नागरिक सम्मान “नाइट ऑफ द लीजन ऑफ ऑनर“(Knight of the Legion of Honour) से सम्मानित किया।

भारत सरकार ने भी अमिताभ बच्चन जी को कला में उनके अभूतपूर्व योगदान के लिए साल 1984 में पद्म श्री, 2001 में पद्म भूषण और 2015 में पद्म विभूषण से नवाजा।

Also read: Biography of Katrina Kaif in Hindi

शाहरुख़ खान (Shahrukh Khan)
Shah Rukh Khan का जन्म 2 November 1965 को दिल्ली में हुआ। Shah Rukh Khan को भी बॉलीवुड में अपनी जगह बनाने में बहुत संघर्ष करना पड़ा। फिल्मो में आने से पूर्व Shah Rukh Khan ने कई टीवी सीरियल्स में काम किया Dil Dariya, Fauji, Circus इनमें से हैं. दूरदर्शन पे आने वाले सीरियल Circus से Shah Rukh Khan को टीवी की दुनिया में पहचान मिलनी शुरू हुई। वैसे तो Shah Rukh Khan का पहला टीवी सीरियल Dil Dariya था परन्तु इसकी शूटिंग में देरी होने की वजह से उनका पहल डेब्यू सीरियल Fauji बन गया।

Shah Rukh Khan ने अपना बॉलीवुड डेब्यू फिल्म दीवाना से किया। Shah Rukh Khan ने नायक और खलनायक दोनों तरह की भूमिका बड़े परदे पर निभाई।
डर, बाज़ीगर और अंजाम जैसी मूवीज में उनके खलनायक के किरदार को लोगों ने बहुत पसंद किया।
कुछ-कुछ होता है, दिल वाले दुलानिया ले जायेंगे, कल हो न हो, कभी ख़ुशी कभी गम, मैं हूँ न, परदेश , स्वदेश, चक दे इंडिया ऐसी ही न जाने कितनी मूवीज में Shah Rukh Khan ने नायक के रूप में अलग अलग तरह के किरदार निभाए है और हमारा मनोरंजन किया है।
लोगों ने वैसे तो Shah Rukh Khan के सारे ही किरदार पसंद किये और करते आ आ रहे है लेकिंग रोमांटिक हीरो के रुप में Shah Rukh Khan का बॉलीवुड में एक अलग ही स्थान हैं।

Shah Rukh Khan लोगों के बीच कई नामों से फेमस है उन्हें “किंग खान”, “बॉलीवुड के बादशाह” (King of Bollywood), और “किंग ऑफ़ बॉलीवुड” नाम से पुकारा जाता है।

Shah Rukh Khan को 2005 में भारत सरकार ने पद्मश्री से सम्मानित किया। 2014 में, उन्हें फ्रांस सरकार ने उन्हें ‘Order of the Légion of Honour’ देश के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार, से सम्मानित किया।

अक्षय कुमार (Aksay Kumar)
30 साल लंबे करियर में, Aksay Kumar ने 150 से अधिक फिल्मों, 8 से अधिक टीवी सीरीज में काम किया और हम सब का खूब मनोरंजन करते आ रहे है।

Aksay Kumar का भी फिल्मो में डेब्यू आसान नहीं था फिल्म उद्योग से पहले Aksay Kumar ने बैंकॉक के फूड स्टाल पर काम किया, उन्होंने शेफ के रूप में काम किया, मॉडलिंग में हाथ आजमाया, और फिल्मो में छोटे मोटे रोले भी किये।

Aksay Kumar ने Saugandh, Ashaant, Sainik, Yeh Dillagi, Mohra, Suhaag, Sapoot जैसी फिल्मों में काम किया और अलग अलग तरह के किरदार निभाए।

Aksay Kumar को ‘खिलाड़ी कुमार’ नाम से भी जाना जाता है. रूस्तम (2016) और पैड मैन (2018) में उनकी जोरदार एक्टिंग को देखते हुए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए दो राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिले।

जोनी लीवर (Jonny Lever)
Jonny Lever को एक बेहतरीन हास्य कलाकार के रूप में जाना जाता है उन्होंने साल 1984 में अपना बॉलीवुड करियर शुरू किया, और 350 से अधिक फिल्मों में अपने शानदार अभिनय से हमारा मनोरंजन करते आ रहे हैं ।
Jonny Lever को पहला ब्रेक “तुम पर हम कुर्बान” में मिला हालाँकि 1990 के दौर में आयी “बाज़ीगर” से उनके काम को पहचान मिलनी शुरू हुई।

Jonny Lever की फिल्मे इस प्रकार हैं : Hero Hiralal, Tezaab, Suryaa, Ilaaka, Kala Bazar, ChaalBaaz, ChaalBaaz

Jonny Lever को हास्य कलाकार के रूप में अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए 13 बार फिल्मफेयर अवार्ड से नवाजा गया।

Jonny Lever अत्यंत गरीब परिवार से ताल्लुक रखते हैं उन्होंने अपनी मेहनत और काबिलियत के दम पर बॉलवुड में अपनी पहचान बनायीं। Jonny Lever कभी सड़कों पर पेन बेच कर अपना जीवन यापन करते थे। Jonny Lever ने हिंदुस्तान लीवर लिमिटेड प्लांट में भी काम किया यही से उनका नाम के आगे ‘लीवर’ लगा।

रजनीकांत (Rajnikant)
Rajnikant जिनका असली नाम शिवाजी राव गायकवाड़ (जन्म 12 दिसंबर 1950) है, दक्षिड़ भारत में जन्मे Rajnikant ने मुख्य रूप से तमिल सिनेमा से अपने काम की शुरुवात की और धीरे धीरे उनका जादू पूरे देश में छा गया।

Rajnikant ने भी खुद को फिल्म इंडस्ट्री में स्थापित करने के लिए ज़ी तोड़ मेहनत की। फिल्मो में आने से पूर्व Rajnikant ने बीटीएस (बैंगलोर ट्रैन्सपोर्ट सेवा) में बस कंडक्टर के रूप में भी काम किया।

Rajnikant अपने प्रसंशको के बीच ‘थलाइवा’ (Thalaiva) नाम से प्रसिद्द हैं।

रजनीकांत को साल 2000 में भारत सरकार ने कला क्षेत्र में अपने अभूतपूर्व योगदान के लिए पद्म भूषण से नवाजा। साल 2016 में रजनीकांत को पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया। इसके अलावा तमिल फिल्मो में अपने जबरजस्त अभिनय के लिए 6 तमिलनाडु राज्य फिल्म पुरस्कार भी दिए गए। रजनीकांत को 4th विजय पुरस्कार में भारतीय सिनेमा में अपने उत्कृष्ट योगदान के लिए Chevalier Sivaji Ganesan पुरस्कार से नवाजा गया।