SSD और HDD में अंतर

SSD और HDD में अंतर | Difference Between SSD and HDD in Hindi

नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका HelpHindiMe के नए लेख में जिसमे हम आपको SSD और HDD में क्या अंतर होता है (Difference Between SSD and HDD in Hindi) इसपर जानकारी प्रदान करने वाले. मुख्य लेख शुरू करने से पहले बता दे कि, Computer में दो प्रकार (Types) की Memory होती है. पहली Primary Memory जिसे अक्सर Random Access Memory (RAM) के नाम जाना जाता है वही दूसरी Secondary Memory होती है जिसे Hard Disk Drive भी कह सकते है.

Computer में चल रहे Current Task को Execute करने के लिए Memory RAM (Random Access Memory) द्वारा प्राप्त होती है. RAM एक Volatile Memory है जो केवल Power Supply होने तक Data Stored रखती है. वही Secondary Memory जोकि Hard Disk Drive की बात करें तो, यह Non-Volatile Memory है जो Data को न केवल Power Off होने के बाद तक बल्कि लंबे अरसे तक Stored रखती है.

खैर, Computer की Memory संबंधित जानकारी तो हमने बता दी अब आगे अपने मुख्य Topic SSD और HDD में अंतर पर गौर करते है.

Hard Disk Drive क्या है? (What is Hard Disk Drive in Hindi)

SSD (Solid State Drive) और HDD (Hard Disk Drive) में अंतर पढ़ने से पहले Hard Disk Drive क्या होता है यह जानना जरुरी है. Hard Disk Drive का आविष्कार Technology में माहिर विश्व की सबसे Popular Company IBM द्वारा सन 1956 में किया गया. जानकर हैरानी होगी कि, Hard Disk Drive ये Technology लगभग 60 से 65 साल पुरानी है. Hard Disk में Data Store करने के लिए Magnetism का इस्तेमाल होता है.

कंप्यूटर का Permanent Data HDD के Platters (जोकि CD-DVD समान होते है) में Store होता है. Platters के ऊपर Data Read और Write करने के लिए Read/Write Head का उपयोग किया जाता है जो Platters के दाएं और बाएं घूमकर Operation Perform करता है.

किसी और Storage Device के तुलना में Hard Disk Drive सबसे ज्यादा Data Store करता है साथ ही इसकी Cost काफी हद तक कम होती है. आजकल के Laptops और Computers की बात करें तो इनमे आमतौर पर 1 TB Storage वाली Hard Disk Install की जाती है. Data में हो रहे Advancement के साथ इसकी Storage Capacity और बढ़ती जाएगी.

अगर Appearance की बात करें तो, HDD और SSD में कोई खास फर्क नहीं है. Hard Disk Drive की Size Device पर निर्भर करती है. यानी अगर HDD Laptop में Install है, तो उसकी Size लगभग 2.5” Form Factor इतनी रहेगी वही Desktop Computer में इसकी Size बढ़कर 3.5’’ इतनी हो जाती है. इसके अलावा, HDD की Storage Capacity पूर्णतः Platters पर निर्भर करती है. जितने ज्यादा Platters उतना ही ज्यादा स्टोरेज.

SSD क्या है? (What is Solid Storage Device in Hindi)

HDD की तरह Solid State Drive (SSD) एक Non-Volatile Memory है जिसका काम Smartphone के Memory Card की तरह होता है. उदाहरण के तौर पर बताया जाए तो,

Case I: मान लो अगर आपके सामने Keys का गुच्छा रखा है और इसमें से कुछ चुनिंदा Keys निकालनी है.

Case II: अगर आपके सामने जो चाहिए बस वही Keys रखे है.

इसमें Case I यानी Hard Disk का काम और Case II यानी Solid State Drive (SSD) का काम. बस यही कारण है जिसके चलते SSD, HDD से अधिक तेज और बेहतर है.

होता क्या है कि, SSD में Data एक Micro Chip में Store किया जाता है और इसमें Read Write Operations Perform करने के लिए Embedded Processor का इस्तेमाल होता है.

Embedded Processor, जिसे Controller भी कह सकते है, ये SSD की Speed का सबसे अहम Component होता है. इस Controller के चलते SSD में एक साथ कई Read, Write और Retrieve Operations Perform किये जाते है.

अब बात करते है SSD की Appearance की. SSD और Hard Disk Drive की Size में ज्यादा Difference नहीं होता. 1.8”, 2.5” और 3.5” Form Factor ये कुछ SSD के Standard Sizes है. Hard Drive के समान SSD में भी SATA Cable का इस्तेमाल किया जाता है. खैर, अब तो SSD क्या होता है? (What is SSD in Hindi) आप भली भांति जान चुके होंगे. अब बढ़ते है SSD और HDD में अंतर की ओर.

SSD और HDD में अंतर (Difference Between SSD and HDD in Hindi)

नया Laptop अथवा Computer खरीदने से पहले SSD और HDD के भीतर मुख्य अंतर जानना बहुत जरुरी है क्योंकि इसके चलते ही आप इन दोनों में से चयन कर सकेंगे. तो आइये जानते है.

AttributesSSD (Solid State Drive)HDD (Hard Disk Drive)
PerformanceSSD में Data Microchip में स्टोर होता है, जो एक साथ एक से ज्यादा Operations Allowed करता है. यही कारण है जिसके चलते SSD का Performance HDD से अधिक बेहतर है.SSD के तुलना में HDD का Performance Low तो नहीं कह सकते लेकिन, थोड़ा कम यानी Medium होता है.
Power ConsumptionHDD के तुलना में SSD कम Power Consume करता है वही उसका औसत तक़रीबन 2 से 3 watts है जिससे 30 से ज्यादा minute की Battery Boost प्राप्त होती है.SSD के तुलना में HDD अधिक Power Consume करता है वही उसका औसत तक़रीबन 6 से 7 watts है जो ज्यादा Battery की खपत दर्शाता है.
Access Time100 Microsecond से भी कम.तक़रीबन 2.9 से 12 seconds.
Data Transfer Rate200 MB/s से 3500 MB/s100 MB/s से 200 MB/s
CostHDD के तुलना में SSD काफी Expensive होती है.HDD की Cost SSD से काफी कम होती है.
CapacityExpensive होने की वजह से SSD की Storage Capacity कम रखी जाती है.सस्ता होने के कारण HDD की Storage Capacity अधिक होती है. आमतौर पर, Computer में 6 TB तक की HDD पाई जाती है.
OS Boot TimeOS Boot Time औसतन 10-13 Seconds का होता है जो काफी तेज है.OS Boot Time औसतन 40-50 Seconds का होता है.
NoiseData Operations Perform करने के लिए कोई Moving Arm की जरूरत नहीं जिसके चलते Noise Generate नहीं होता.Platters पर Data Operations परफॉर्म करने के लिए Read Write Arm का इस्तेमाल होता है जो Noise Generate करता है.
File Opening SpeedHDD के तुलना में SSD की File 30% अधिक तेज खुलती है.SSD के तुलना में HDD की File Opening Speed कम होती है.
VibrationMechanical Components न होने के कारण SSD में कोई Vibration नहीं होता.Mechanical Components होने के कारण HDD में Vibration होता है.

Hard Disk Drive (HDD) आपके लिए बेहतर रहेगा अगर:

  • आपको कम कीमत में अधिक Data Storage चाहिए.
  • OS की Bootup Speed यानी Computer Start होने की Speed थोड़ा कम होने से आपको कोई एतराज नहीं.
  • आप केवल Browsing और Processing के लिए Computer खरीदना चाहते है.

Solid State Drive (SSD) आपके लिए बेहतर रहेगा अगर:

  • आपको कम Data Storage से कोई शिकायत नहीं.
  • आप पैसों की चिंता न किये Better Performance वाला Computer Experience करना चाहते है.
  • आप High-End Gaming के लिए Computer खरीदना चाहते है.

HDD के Advantages (Advantages of HDD in Hindi)

  • Hard Disk Drive आसानी से market में available हो जाती है.
  • HDD बड़ी Files को अच्छी तरह Handle/Manage कर लेता है.
  • अन्य Storage Device के तुलना में HDD की Storage Capacity अधिक होती है.

HDD के Disadvantages (Disadvantages of HDD in Hindi)

  • Speed काफी हद तक कम होती है.
  • Mechanical Parts का उपयोग होने के कारण ये अधिक गर्मी और कंपन पैदा करता है.
  • Computer में इसे ज्यादा Space चाहिए होती है.

SSD के Advantages (Advantages of SSD in Hindi)

  • Speed यह SSD का Primary Advantage है. High Speed की वजह से ही SSD को Install किया जाता है.
  • Data Microchip में Store किया जाता जिसके चलते एक साथ Multiple Operations Possible है.

SSD के Disadvantages (Disadvantages of SSD in Hindi)

  • SSD में NAND-Flash Memory का उपयोग किया जाता है जो थोड़े अरसे बाद बेकार हो जाती है.
  • Fragmentation issues.

इस लेख में हमने क्या सीखा? (Conclusion)

दोस्तों, लेख के शुरुआत में हमने Computer की Memory और उसके Types पर गौर किया. इसके आगे हमने HDD क्या है? (What is HDD in Hindi), SSD क्या है? (What is SSD in Hindi) साथ ही हमारा मुख्य Topic SSD और HDD में अंतर (Difference between SSD and HDD in Hindi) सम्बंधित जानकारी प्राप्त की.

लेख के अंत में Computer में अगर SSD या HDD होने से क्या फायदा होगा, HDD के Advantages (Advantages of HDD in Hindi), HDD के Disadvantages (Disadvantages of HDD in Hindi), SSD के Advantages (Advantages of SSD in Hindi) और SSD के Disadvantages (Disadvantages of SSD in Hindi) पढ़े.

आशा करते है कि, ऊपर दी गई जानकारी आपको भली भांति समझ आयी है. आप अपने सुझाव और question कमेंट सेक्शन पर जा के पूछ सकते हैं . ऐसे ही Technical Blogs पढ़ने के लिए HelpHindiMe को Subscribe करें. धन्यवाद.