हार्दिक पांड्या की जीवनी

http://helphindime.in/who-is-hardik-pandya-biography-jivani-jivan-parichay-family-wife-son-jersey-number-information-in-hindi/
हार्दिक पांड्या की जीवनी | Who is Hardik Pandya | Biography | Jivani | Jivan Parichay | Family | Wife | Son | Jersey Number | Information in Hindi

हार्दिक पांड्या की जीवनी | Hardik Pandya biography in Hindi

भारतीय क्रिकेट टीम के इतिहास में एक से बढ़कर एक महान खिलाड़ी हुए है। इनमें कई सारे ऑलराउंडर खिलाड़ियों ने भी क्रिकेट में अपना योगदान दिया, जिनमें कपिल देव, संदीप पाटिल और मनोज प्रभाकर शामिल है।

इन लोगों ने अपनी बल्लेबाजी के साथ-साथ शानदार गेंदबाजी से अपने दर्शकों को और दुनिया को कई बार  चौंकाया है। आज हम बात करने वाले है भारतीय क्रिकेट टीम के एक अन्य ऑलराउंडर खिलाड़ी के बारे में जिनका नाम है, हार्दिक पांड्या

आइए जानते हैं हार्दिक पांड्या के जीवन से जुड़े हुए कुछ अनछुए रोचक पहलुओं को:

नामहार्दिक हिमांशु पांड्या
अन्य नामहार्दिक पांड्या, हैरी
जन्म तिथि11 अक्टूबर 1993
जन्म स्थानसूरत, गुजरात
उम्र (2021)27 वर्ष
पिता का नामहिमांशु पांड्या
माता का नामनलिनी पांड्या
भाई का नामकुणाल पांड्या
पत्नी का नामनताशा स्टैंकोविक
बच्चे का नामअगस्त्य
पेशाक्रिकेटर
राष्ट्रीयताभारतीय
ऊंचाई183 सेमी, 1.83 मीटर, 6’0 इंच
वजन75 kg, 165 lbs
शारीरिक40 इंच (छाती), 30 इंच (कमर), 12 इंच (बाइसेप्स)
बालों का रंगकाला
आंखों का रंगकाला
राशिकर्क
धर्महिन्दू
जातिब्राह्मण
शौकगाने सुनना
वैवाहिक स्थितिविवाहित
शैक्षणिक योग्यता9वीं ड्राप आउट
स्कूल का नामएम के हाई स्कूल, बड़ौदा
खेलने की शैलीदाहिने हाथ के बल्लेबाज और गेंदबाज
हार्दिक पांड्या की जीवनी | Who is Hardik Pandya | Biography | Jivani | Jivan Parichay | Family | Wife | Son | Jersey Number | Information in Hindi

हार्दिक पांड्या का आरंभिक जीवन (Hardik Pandya’s Early Years)

भारतीय क्रिकेट टीम के ऑलराउंडर खिलाड़ी हार्दिक पांड्या का जन्म 11 अक्टूबर 1993 में सूरत, गुजरात में हुआ। हार्दिक के पिता का नाम हिमांशु पांड्या है जबकि उनकी माता का नाम नलिनी पांड्या है।

हार्दिक के बड़े भाई कुणाल पांड्या है, कुणाल भी हार्दिक की तरह एक क्रिकेटर हैं। हार्दिक पांड्या का जन्म एक लोअर मिडिल क्लास परिवार में हुआ। इसीलिए उनका बचपन काफी संघर्षों के साथ बीता। हार्दिक पांड्या की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी जिसकी वजह से किरण मोरे ने अपने ट्रेनिंग सेंटर में उन्हें मुफ्त ट्रेनिंग दी।

हार्दिक पांड्या बताते हैं कि जब वह अपने भाई के साथ ग्राउंड में प्रैक्टिस करते थे तब वह सिर्फ पांच रुपये की मैगी खाकर अपना पेट भरते थे। जिससे वह पैसे बचाकर अपने लिए क्रिकेट किट खरीद सकें।

साल 2014 में जब हार्दिक पांड्या सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी की तैयारी कर रहे थे तब उस समय इरफान पठान ने उन्हें 2 बैट गिफ्ट किए थे। हार्दिक पांड्या बचपन से ही पढ़ाई की जगह क्रिकेट से अधिक प्रेम करते थे। उन्होंने नौवीं कक्षा तक एम के हाई स्कूल में पढ़ाई की।

लेकिन इसी कक्षा में असफल होने के बाद उन्होंने ड्रॉपआउट कर लिया। हार्दिक पांड्या की किस्मत में नया मोड़ आया जब जॉन राइट जो की मुंबई इंडियंस के कोच थे, ने हार्दिक पांड्या के अंदर क्रिकेट को लेकर समर्पण का भाव देखा।

उन्होंने हार्दिक को 10 लाख रुपए में खरीदा जिसके बाद से हार्दिक के जीवन में सब कुछ बदल गया और वह एक बड़े खिलाड़ी बन गए।

उसैन बोल्ट की जीवनी

हार्दिक पांड्या का परिवार (Hardik Pandya Family, Brother, Wife & Son)

हार्दिक पांड्या के परिवार में उनके माता-पिता, उनके भाई, उनकी पत्नी तथा उनके बच्चे शामिल हैं। दरअसल, हार्दिक के पिता एक कार फाइनेंस चलाते थे लेकिन सूरत में वे अपने बच्चों को क्रिकेट की ट्रेनिंग नहीं दे पाते थे।

जिस वजह से उन्होंने सूरत से बड़ोदरा आने की सोची पर बड़ोदरा आकर उनका कार फाइनेंस का बिजनेस नहीं चल सका जिससे उनके परिवार का एकमात्र आमदनी का साधन भी छूट गया। घर की सारी जिम्मेदारी हार्दिक और उनके भाई कुणाल पांड्या पर आ गई।

हार्दिक पांड्या के भाई कुणाल पांड्या भी क्रिकेटर है तथा उन्होंने हार्दिक पांड्या के साथ ही बड़ोदरा के किरण मोरे क्रिकेट एकेडमी में दाखिला लिया था।

हार्दिक के भाई का हमेशा से यह कहना रहा है कि हार्दिक उनसे अच्छा खेलते हैं। इसके अलावा हार्दिक पांड्या की पत्नी का नाम नताशा स्टैंकोविक है जो कि एक मॉडल है।

इन दोनों की शादी पिछले साल हुई है तथा दोनों का एक बच्चा भी है जिसका नाम अगस्त्य है।

रिहाना की जीवनी

हार्दिक पांड्या की पसंदीदा चीजें (Hardik Pandya’s favorite)

हार्दिक पांड्या को क्रिकेटर्स में बल्लेबाज युवराज सिंह और सचिन तेंदुलकर बेहद पसंद है। इसके अलावा  उन्हें गाना सुनना पसंद है तथा वह हरभजन सिंह से भी काफी स्नेह रखते हैं।

हार्दिक को खाने में गुजराती खाना ही पसंद है एक तरफ उनके पसंदीदा अभिनेता अक्षय कुमार है तो दूसरी तरफ आलिया भट्ट, दीपिका पादुकोण, करीना कपूर उनकी मनपसंद अभिनेत्री है।

हार्दिक को सुपर हीरो में सुपरमैन पसंद है तथा रंगों में उन्हें सफेद रंग से बेहद प्यार है।

इसके अलावा हार्दिक पांड्या कारों का भी शौक रखते हैं उनके पास लेम्बोर्गिनी हुराकैन ईवो, मर्सिडीज़ G63 AMG, रेंज रोवर तथा ऑडी A6 कार है।

चार्ल्स बैबेज की जीवनी

हार्दिक पांड्या और नताशा स्टैंकोविक की शादी (Hardik Pandya and Nataša Stanković’s wedding)

पिछले साल नताशा स्टैंकोविक और हार्दिक पांड्या ने लॉकडाउन में ही अचानक शादी कर ली जिससे उनके फैंस चौंक गए।

इसके साथ ही उन दोनों ने ऐलान किया कि नताशा प्रेग्नेंट है और वह शादी करने वाले हैं। इसके बाद एक दिन दोनों ने अचानक सोशल मीडिया में अपनी शादी की तस्वीरें शेयर की। जिससे दोनों को समाचारों में काफी सुर्खियां मिली।

शादी की तस्वीरें शेयर करने के बाद से ही उन्होंने काफी सुर्खियां बटोरी। पिछले साल ही नताशा ने एक बेटे को जन्म दिया जिसका नाम अगस्त्य है।

अपनी सगाई और शादी के विषय पर बात करते हैं पांड्या कहते हैं कि उनकी शादी के बारे में भी उनके माता-पिता को कानो कान खबर भी नहीं थी। और उन्होंने अपनी सगाई के बारे में भी अपने भाई को सिर्फ 2 दिन पहले ही जानकारी दी थी।

रिद्धिमा पांडे की जीवनी

हार्दिक पांड्या का क्रिकेट करियर (Hardik Pandya’s cricket career)

हार्दिक पांड्या के करियर की शुरुआत साल 2013 में बड़ौदा क्रिकेट टीम के साथ हुई इसमें सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी जीतने में भी हार्दिक ने एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा की थी।

2015 में हार्दिक पांड्या को आई पी एल में खेलने का मौका मिला। दरअसल इस खेल के लिए मुंबई इंडियंस ने उन्हें 10 लाख में खरीदा था

साल 2016 में भी हार्दिक ने बड़ौदा सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के लिए खेला था इसमें उन्होंने 370 रन बनाए तथा 10 विकेट के साथ शीर्ष स्कोरर बन गए।

16 अक्टूबर 2016 में उन्होंने धर्मशाला में न्यूजीलैंड के खिलाफ एक अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था जिसमें उन्होंने 32 गेंदों में 36 रनों का स्कोर किया था और 3 विकेट भी हासिल किये थे।

तब से लेकर आज तक पांडेय ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। साल 26 जुलाई 2017 को भी श्रीलंका के खिलाफ तीसरे टेस्ट में हार्दिक ने अपना पहला शतक पूरा किया था।

अनन्या पांडे की जीवनी

हार्दिक पांड्या का जर्सी नंबर (Hardik Pandya’s Jersey Number)

हार्दिक पंड्या ने 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलते हुए जर्सी नंबर 228 पहनी थी, अब वे जर्सी नंबर 33 पहनते हैं।

हार्दिक पांड्या के बारे में कुछ रोचक तथ्य (Some interesting facts about Hardik Pandya)

  • उन्होंने पिछले साल 1 जनवरी 2020 को सर्बियाई नृत्यांगना नताशा स्टैंकोविक के साथ शादी कर ली।
  • हार्दिक पांड्या ने नौवीं कक्षा तक पढ़ाई की है तथा 9वी में असफल होने के बाद उन्होंने अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी थी। 
  • 30 जुलाई को उनके बच्चे ने जन्म लिया जिसका नाम अगस्त्य रखा गया।
  • हार्दिक अपने धुरंधर बल्लेबाजी से और शानदार बॉलिंग के लिए जाने जाते हैं।
  • हार्दिक के क्रिकेट करियर में उनके पिता का काफी योगदान है क्योंकि उनके पिता ने सूरत की अपनी बसी बसाई नौकरी छोड़ बड़ौदा में शिफ्ट किया। जिसके बाद उनके हाथ कुछ नहीं लगा।
  • हार्दिक पांडे की आर्थिक स्थिति देखते हुए किरण मोरे ने अपने एकेडमी में पढ़ने के लिए पांड्या से 3 सालों तक कोई शुल्क नहीं लिया।
  • हार्दिक पांड्या टैटू के काफी शौकीन है इसलिए उन्होंने अपने शरीर पर टैटू गुदवा रखा है।
  • हार्दिक पांड्या के शरीर में बने टैटू के मुकाबले उन्हें उनकी बांह में ‘टाइम इज मनी’ का टैटू काफी पसंद है।
  • हार्दिक पांड्या, यूसुफ पठान और इरफान पठान के अच्छे दोस्त हैं।
  • हार्दिक पांड्या को बैट इक्कट्ठा करने का काफी शौक है इसीलिए प्रत्येक मैच में वह सात से आठ बैट लेकर रखते हैं।
  • महान क्रिकेट खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर ने हार्दिक से कहा था की इसी एक से डेढ़ साल के अंदर वह भारतीय क्रिकेट टीम में खेलेंगे और अंत में ऐसा ही हुआ।
  • आईपीएल में चयनित होने से पहले हार्दिक एक मैच के 400 रुपए मिलते थे जबकि उनके भाई को को 500 रुपए मिलते थे।
  • हार्दिक ने एक इंटरव्यू में बताया था कि उन्हें अपने रवैए की वजह से कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। वह अपनी भावनाओं को छुपाना नहीं पसंद करते जिस वजह से उन्हें कई बार कई टीमों से हटा दिया गया था।
  • साल 2018 में मुंबई इंडियंस द्वारा उन्हें 11 करोड़ रुपए में खरीदा गया था।
  •  हार्दिक ने पाकिस्तान के खिलाफ इंग्लैंड में खेले गए चैंपियंस ट्रॉफी के मैच में तीन गेंदों में 3 छक्के मारे जिससे हर कोई हैरान रह गया था।

रसिका दुग्गल की जीवनी

Author:

भारती, मैं पत्रकारिता की छात्रा हूँ, मुझे लिखना पसंद है क्योंकि शब्दों के ज़रिए मैं खुदको बयां कर सकती हूं।